दिल्ली में 6 दिनों का सख्त लॉकडाउन, जानें क्या खुला रहेगा और क्या रहेगा बंद ?

Delhi Lockdown: देश की राजधानी दिल्ली में कोरोना (Corona) का कहर थमने का नाम नहीं ले रहा हैं, राजधानी में बढ़ते कोरोना को देखते हुए दिल्ली की केजरीवाल सरकार (Arvind Kejriwal) ने आज रात 10 बजे से सोमवार सुबह 5 बजे तक लॉकडाउन (Lockdown) का ऐलान किया है।

दिल्ली (Lockdown in Delhi) में आज रात 10 बजे से 26 अप्रैल सुबह 5 बजे तक लॉकडाउन रहेगा. सीएम अरविंद केजरीवाल (CM Arvind Kejriwal) ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में जानकारी दी कि इस लड़ाई में जनता की मदद जरूरी है, हमने हर चीज जनता के सामने रखी है. दिल्ली सरकार ने हर एक आकड़े जनता के सामने रखे हैं, हमने मौत के आंकड़े नहीं छिपाये हैं.

जानें क्या खुला रहेगा और क्या रहेगा बंद ?

  • मेट्रो, बस सर्विस चालू रहेगी. लेकिन उन्हीं लोगों को इनमें ट्रैवल करने की छूट मिलेगी, जो जरूरी क्षेत्र से जुड़े हुए हैं.
  • रेलवे स्टेशन, बस स्टेशन, एयरपोर्ट जाने वाले लोगों को छूट मिलेगी
  • दिल्ली में सभी प्राइवेट दफ्तरों में वर्क फ्रॉम होम किया जाएगा.
  • पेट्रोल पंप, एलपीजी, सीएनजी सेंटर खुले रहेंगे. बैंक, एटीएम खुले रहेंगे.
  • दिल्ली में धार्मिक स्थल खुले रहेंगे, लेकिन किसी बाहरी व्यक्ति को प्रवेश नहीं मिलेगा.
  • सभी मॉल, जिम, स्पा, ऑडिटोरियम, असेंबली हॉल, एंटरनेटमेंट पार्क बंद रहेंगे.
  • अगर कोई शादी का कार्यक्रम है, तो उसमें सिर्फ 50 लोगों को ही इजाजत दी जाएगी, लेकिन उसके लिए पास लेना होगा.
  • अस्पताल, सरकारी कर्मचारी, पुलिस, जिलाधिकारी, बिजली, पानी, सफाई से जुड़े लोगों को कर्फ्यू में छूट मिलेगी.

अरविंद केजरीवाल ने कहा दिल्ली में आज सबसे अधिक टेस्ट हो रहे हैं, हर रोज दिल्ली में 1 लाख टेस्टिंग हो रही हैं दिल्ली सरकार टेस्टिंग को लगातार बढ़ रही हैं. दिल्ली में कितने बेड्स, आईसीयू बेड्स और अस्पतालों की क्या हालत है, हमने जनता को बताया है. अरविंद केजरीवाल ने कहा कि दिल्ली में हर रोज 25 हजार के करीब केस आ रहे हैं, दिल्ली में बेड्स की भारी कमी हो रही है.

दिल्ली के अस्पतालों में दवाई नहीं है, ऑक्सीजन नहीं है. दिल्ली का हेल्थ सिस्टम और ज्यादा मरीज नहीं ले सकता है, इसलिए लॉकडाउन बहुत जरूरी है.

वहीं रविवार को राजधानी में 25462 नए कोरोना संक्रमित मरीज मिले हैं और 161 कोरोना संक्रमित लोगों की मौत भी हुई, दिल्ली में कोरोना संक्रमण की दर 30 फीसदी तक पहुंच गई है।

 

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.