कोरोना के बढ़ते खतरे को देखते हुए पंजाब-महाराष्ट्र समेत 5 राज्यों में 30 अप्रैल तक बढ़ा लॉकडाउन

कोरोना वायरस (Coronavirus) के बढ़ते मामलों को देखते हुए महाराष्ट्र, कर्नाटक और पश्चिम बंगाल ने लॉकडाउन (Lockdown) को 30 अप्रैल तक के लिये बढ़ा दिया है। 21 दिन के देशव्यापी लॉकडाउन की मियाद 14 अप्रैल को समाप्त हो रही है। इसके साथ ही नोएडा में धारा 144 को 30 अप्रैल तक के लिये बढ़ा दिया गया है।
महाराष्ट्र,उड़ीसा और पंजाब में बढ़ा लॉकडाउन-
महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे (Uddhav Thackeray) ने भी लॉकडाउन को 30 अप्रैल तक बढ़ाने का एलान किया है। महाराष्ट्र कोरोना वायरस के कहर से सबसे ज़्यादा प्रभावित है। उड़ीसा सरकार पहले ही 30 अप्रैल तक लॉकडाउन को बढ़ाने का एलान कर चुकी है। पंजाब ने लॉकडाउन को 1 मई तक के लिये बढ़ा दिया है।
पश्चिम बंगाल में 30 अप्रैल तक बढ़ा लॉकडाउन-
पश्चिम बंगाल की सीएम ममता बनर्जी (Mamata Banarjee) ने कहा है कि राज्य में लॉकडाउन 30 अप्रैल तक बढ़ाया जाएगा। ममता ने कहा कि राज्य में 10 जून तक स्कूल बंद रहेंगे। तो वही कर्नाटक सरकार (Chief minister of Karnataka) ने भी लॉकडाउन को 30 अप्रैल तक बढ़ाये जाने का एलान किया है।
इसी तरह राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत (Ashok Gehlot) ने कहा कि राष्ट्रव्यापी लॉकडाउन को बढ़ाये जाने की ज़रूरत है। मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान (Shivraj Singh Chauhan) ने भी लॉकडाउन को बढ़ाने का अनुरोध किया। बिहार सरकार ( Nitish Kumar) भी लॉकडाउन बढ़ाने के समर्थन में है।
लॉकडाउन को बढ़ाये जाने के मुद्दे पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शनिवार को चार घंटे तक 13 राज्यों के मुख्यमंत्रियों से वीडियो कॉन्फ़्रेंसिंग के जरिये बातचीत की। वीडियो कॉन्फ़्रेंसिंग के ख़त्म होने के बाद दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल (Arvind Kejriwal) के ट्वीट ने यह संकेत कर दिया कि लॉकडाउन का बढ़ना तय है। केजरीवाल ने कहा, प्रधानमंत्री ने लॉकडाउन को बढ़ाकर एकदम सही फ़ैसला लिया है।
केजरीवाल ने कहा अगर अब लॉकडाउन को रोका जाता है तो जो हमारी स्थिति बेहतर हुई है, वह सब हम गंवा देंगे। इसलिये लॉकडाउन को बढ़ाना ज़रूरी है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.