शहीद के परिवार को अब मदद का किया ऐलान

गुजरात के मुख्यमंत्री विजय रूपानी की एक रैली के दौरान शहीद बीएसएफ जवान की बेटी वहां से उसे महिला पुलिस कर्मियों ने रोक लिया और घसीटकर बाहर निकाला। इस घटना के बाद गुजरात के मुख्यमंत्री विजय रूपानी ने शुक्रवार को शहीद के परिवार के लिए आर्थिक मदद के साथ ही कई सुविधाएं देने का आदेश दिया। मुख्यमंत्री को बताया गया कि रैली से बाहर निकाली गई लड़की शहीद की बेटी थी। मुख्यमंत्री विजय रूपानी ने कांग्रेस को चेतावनी देते हुए कहा कि राहुल गांधी शहीदों के नाम पर गंदी राजनीति करना बंद करे। कांग्रेस के ऐसे ही काले कारनामों की वजह से जनता ने उन्हें हर जगह से बेदखल कर दिया है।  
मुख्यमंत्री ने ऐलान किया कि श्रीमती रेखाबेन अशोकभाई तड़वी को भाजपा सरकार की ओर से 4 एकड़ ज़मीन, 10,000 रुपए मासिक पेंशन और 36,000 रुपए वार्षिक पेंशन उपलब्ध कराया गया है। इसके अलावा, उन्हें सड़क के पास की 200 वर्ग मीटर आवासीय भूखंड भी दिया जा रहा है।  आपको बता दें कि रैली में घटी इस घटना के बाद राहुल गांधी ने ट्वीट कर भाजपा पर हमला बोला था। राहुल ने कहा था कि भाजपा का घमंड अपने चरम पर है। उन्होंने कहा कि ‘परम देशभक्त’ रुपाणीजी ने शहीद की बेटी को सभा से बाहर फिंकवा कर मानवता को शर्मसार किया। 15 साल से परिवार को मदद नहीं मिली, खोखले वादे और दुत्कार मिली। इंसाफ़ माँग रही इस बेटी को आज अपमान भी मिला। शर्म कीजिए,न्याय दीजिए।