विधायक कांधाल जड़ेजा शपथ से पहले हुए गिरफ्तार

संवाद न्यूज ब्यूरो

 

गुजरात के नवनिर्वाचित विधायक कांधाल जड़ेजा समेत सात लोगों को दंगों के मामले में गुरुवार को गिरफ्तार कर लिया गया। इन पर पोरबंदर जिले में एक पुलिस अधिकारी की पिटाई का आरोप है। विधायक ज़़डेजा ‘गॉड मदर’ के नाम से विख्यात संतोक बेन जड़ेजा के पुत्र हैं।

 

एसपी शोभा भूत़़डा ने बताया कि जड़ेजा, उनके दो भाई-करण जड़ेजा व काना जड़ेजा व करीब एक दर्जन अन्य ने बुधवार को रानावाव पुलिस थाने में तो़ड़फोड़ की थी। उन्होंने थाने में शरण लिए बैठे उनके राजनीतिक प्रतिद्वंद्वी समत गोगान के साथ भी मारपीट की। वह हमले के भय से थाने पहुंच गए थे।

 

पुलिस इंस्पेक्टर एनडी परमार ने बताया कि आरोपियों ने गोगान व थाना प्रभारी के साथ मारपीट के साथ वहां तो़ड़फो़ड़ मचाई थी। ज़़डेजा हालिया विधानसभा चुनाव में गोगान द्वारा उठाए गए कुछ मुद्दों को लेकर नाराज थे और उनकी तलाश कर रहे थे। उस वक्त गोगान ने पुलिस थाने में पनाह ले रखी थी।

 

उन्होंने बताया कि गोगान ने कथित तौर पर जडेजा की इच्छा के खिलाफ बतौर निर्दलीय उम्मीदवार चुनाव लड़ने की कोशिश की थी लेकिन बाद में अपना नामांकन पत्र वापस ले लिया था। हालांकि, यह बात खत्म नहीं हुई, बल्कि हमले तक जा पहुंची।

 

जडेजा और अन्य पर आईपीसी की धारा 143 (गैरकानूनी रूप से एकत्र होना), 147 (दंगा करना), 504 ( इरादतन अपमान करना), 427 ( छोटी मोटी नुकसान पहुंचाना), 332 ( लोक सेवक को ड्यूटी से रोकने के लिए चोट पहुंचाना) और 186 (लोकसेवक को रोकना) के तहत मामला दर्ज किया गया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *