बच्ची की मौत के बावजूद बना डाला 18 लाख का बिल, कफन का भी वसूला पैसा

संवाद न्यूज (गायत्री पांडे)
नई दिल्ली: भगवान का दूसरा रूप कहे जाने वाले डॉक्टर अब हैवान बनते जा रहे हैं। मरीज की जान भले चली जाए लेकिन इनकी जेब में मोटी रकम आनी चाहिए। जी हां एक ऐसा ही मामला सामने आया है फोर्टिस अस्पताल का । जहां एक बच्ची की डेंगू से मौत हो गई, हैरान कर देने वाली बात ये है कि उस बच्ची के परिजनों के दुख को अनदेखा करते हुए और बच्ची के जान गंवा देने के बावजूद भी अस्पताल ने 18 लाख का बिल पेश कर दिया।
आपको बता दें कि डेंगू के इलाज के लिए फोर्टिस में जो बच्ची भर्ती की गई थी उसकी उम्र महज सात साल थी। इस बच्ची के इलाज में 2700 ग्लव्स और 500 सिरिंज का उपयोग किया गया है। जिस पर 15.59 लाख का बिल बना दिया गया। सबसे बड़ी बात ये रही कि इतने के बावजूद भी बच्ची की जान नहीं बच सकी।
दरअसल बच्ची को दो महीने पहले ही डेंगू हुआ था। डेंगू होने के बाद उसे एक प्राइवेट अस्पताल में ही भर्ती कराया गया था। डेंगू होने के पांचवे दिन ही उसे रॉकलैंड से फोर्टिस के लिए लाया गया था। जहां अस्पताल ने भी उस मासूम के साथ ये अन्याय किया। इतना ही नहीं बल्कि कफन का पैसा भी अस्पताल ने बच्ची की मां से ही वसूल लिया।
हालांकि इस मामले पर केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री जेपी नड्डा ने भी एक्शन लिया है और जांच का आदेश दिया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *