राजस्थान में भी भाजपा को मिला बड़ा झटका, जिला परिषद की सभी चार सीटों पर कांग्रेस का कब्जा

संवाद न्यूज ब्यूरो

 

जयपुर: गुजरात विधानसभा चुनाव में कांग्रेस के शानदार प्रदर्शन के बाद पार्टी ने मंगलवार को राजस्थान के स्थानीय निकाय उपचुनाव में जिला परिषद की सभी चार सीटों पर कब्जा कर लिया। स्थानीय निकायों के परिणामों में कांग्रेस ने सभी चार जिला परिषद की सीटों 27 में से 16 पंचायत समितियों और छह नगर पालिकाओं की सीटों पर जीत हासिल की है।

 

वहीं भाजपा 10 पंचायत समिति और सात नगरपालिका सीटों पर जीत दर्ज कर सकी।  राज्य निर्वाचन आयोग के अनुसार चार जिला परिषदों में से भाजपा के पास पिछले चुनाव में एक सीट थी। जो इस बार कांग्रेस की झोली में चली गई। स्थानीय निकाय उपचुनाव 19 जिलों के 27 पंचायत समितियों, 12 जिलों की 14 नगरपालिकाओं और चार जिला परिषदों में गत 17 दिसंबर को मतदान हुआ था।

 

प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष सचिन पायलट ने स्थानीय निकाय उपचुनाव के परिणामों पर प्रतिक्रिया देते हुए कहा कि निकाय उपचुनावों के परिणामों ने यह साबित कर दिया है कि अब भाजपा की राजस्थान में उल्टी गिनती शुरू हो गई है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस पिछले चार सालों में जनता की भावनाओं को सामने लाती रही, जिससे आम जनता में कांग्रेस के प्रति विश्वास बढ़ा है। उन्होंने विश्वास जताया कि प्रदेश में होने वाले आगामी अलवर और अजमेर लोकसभा सीटों और मांडलगढ़ विधानसभा सीट पर उपचुनाव में भी जनता कांग्रेस को जीत दिलाएगी।

 

स्थानीय निकाय चुनाव के नगरपालिका परिणाम में मुख्यमंत्री वसुंधरा के बेटे और सांसद दुष्यंत सिंह के गढ़ माने जाने वाले बारां जिले के दो वार्ड पर भाजपा को मिली हार पार्टी के लिए एक झटका है। वहीं भाजपा के प्रदेश प्रवक्ता आनंद शर्मा ने कहा कि स्थानीय निकाय परिणाम पार्टी के लिए अच्छे रहे। कई ऐसी सीटें हैं जो विपक्ष काग्रेस के पास थीं और भाजपा ने उसे छीन ली है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *