गरीबी से जंग : पेट पालने के लिए मर्दों के बाल और दाढ़ी बनाती हैं यह महिला

संवाद न्यूज़ नेटवर्क

कहते हैं कि जब वक्त की मार इंसान पर पड़ती है तो उसमें आवाज नहीं होती है लेकिन मार झेलने वाले को दर्द बहुत होता है। वर्तमान में गरीबी एक अभिशाप बन चुकी है। यदि कोई गरीब इंसान अपनी गरीबी के कारण परेशान है तो समाज में लोग उसे कमजोर समझने लगते हैं। ऐसे में गरीब और असहाय लोग किसी भी काम को करने के लिए तैयार हो जाते हैं। उनको किसी के तानों की कोई परवाह नहीं रह जाती है।

ठीक इसी तरह का मामला बिहार के सीतामढ़ी से भी सामने आया है जहां एक महिला अपनी गरीबी से मजबूर होकर लोगों के घर-घर जाकर दाढ़ी और बाल बनाने का काम करती है। इस मेहनत के बदौलत ही वह अपने घर के खर्चे चलाती है।

बता दें कि ये बहादुर महिला बाजपट्टी क्षेत्र के बररी फुलवरिया पंचायत के बसौल ग्राम निवासी 35 वर्षीय सुखचैन देवी हैं। इनकी शादी पटदौरा गांव में हुई है और इनके पति चंडीगढ़ में बिजली मिस्त्री का काम करते हैं। इस काम से घर के लोगों के सामने रोजी-रोटी की समस्या खड़ी हो रही थी और सही ढंग से गुजारा कर पाना बेहद कठिन था। इसीलिए सुखचैन ने अपना पुश्तैनी काम करने का फैसला कर लिया।

प्रारंभिक समय में लोगों को सुखचैन से दाढ़ी और बाल बनवाना थोड़ा अटपटा लग रहा था। वो मायके में थीं जिसके बाद कुछ लोगों ने उनको बहन बुलाते हुए उनसे काम करवाना शुरू कर दिया। सुखचैन सवेरे ही कैंची और उस्तरा लेकर गांव में निकल जाती हैं और लोगों की हजामत बनाने का काम शुरू कर देती हैं।

इस काम को करते हुए सुखचैन प्रतिदिन लगभग 200 रूपए तक कमा लेती हैं जिससे उनको घर चलाने में आसानी होती है। बता दें कि बचपन में जब उनके पिता लोगों के घर जाकर दाढ़ी और बाल बनाने जाते थे तो सुखचैन भी उनके साथ जाती थीं। पिता को देखकर उन्होंने भी सीख ली और इस काम को अपनाते हुए शुरू कर दिया।

सुखचैन ने तीन बच्चों को पढ़ाने और गरीबी में घर का खर्च चलाने के लिए इस काम को शुरू कर दिया। सुखचैन ने बातचीत के दौरान बताया कि इससे पहले वो शादी-विवाह में लोगों के घर जाकर महिलाओं के नाखून काटना तथा अन्य दूसरे काम करती थीं। उन्होंने बताया कि यदि ट्रेनिंग का मौका मिलेगा तो ब्यूटी पार्लर खोल लूंगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.