जानिये गोण्डा में मेडिकल कॉलेज के लिए संघर्ष कर रहे इस युवा की जीवन कहानी

गोण्डा संवाद

अविनाश सिंह ने गोण्डा में मेडिकल कॉलेज को लेकर दिन रात एक कर दिया। अविनाश सिंह ने रक्तदान करते हुए कहा कि मेरे रक्त का हर एक कतरा गोंडा के काम आएगा। उनका सीधा कहना है ये संघर्ष रुकेगा नहीं, और इसमें कोई राजनीतिक एजेंडा नहीं है. हम अपने गोंडावासियों के लिए लड़ाई लड़ रहे हैं.

गोण्डा में मेडिकल कॉलेज के लिए संघर्षरत अविनाश सिंह की पूरी जीवन कहानी

पूरे जनपद की लड़ाई लड़ रहे अविनाश सिंह मात्र 18 वर्ष के है, अविनाश सिंह का जन्म ग्राम कैंथोला जनपद गोण्डा में हुआ. इन्हें बचपन से ही समाजसेवा का शौक रहा इनके पिता फ़ौज में है वो देश की सेवा करते हैं और अविनाश जिले की सेवा करते है सन 2003 में अविनाश सिंह गोण्डा शहर में आ गए, उनका जन्म 04 जुलाई 2000 में हुआ, इनके बाबा भी समाजसेवक थे।

अविनाश सिंह का छात्र राजनीति में कदम

अविनाश सिंह 2014 में छात्र राजनीति में कदम रखा उन्होंने छात्रों के साथ हो रहे अन्याय से लड़ने का मन बना लिया था चाहे वो परीक्षा में धांधली हो यह और कुछ अविनाश सिंह ने अपने साथियों के साथ कई बार चक्का जाम भी कर चुके है ।

एक छात्र नेता के साथ गलत हुआ तो अविनाश सिंह कड़ी धूप में सड़क पर सो गए और अवध विश्वविद्यालय के सामने नेशनल हाईवे पर एक नेता के गाड़ी के सामने भी सो गए।

स्वच्छता अभियान में भी बढ़ चढ़ कर लिया हिस्सा

कई बार जनपद में महापुरुषों की प्रतिमा साफ करने के लिए वो जाने जाते थे उन्होंने हर दम स्वच्छता की ही बात की वो अपने जनपद को स्वच्छ देखना चाहते थे इसी लिए हर जगह वो सफाई में लगे रहते थे।

मेडिकल कॉलेज के लिए संघर्ष है जारी अविनाश सिंह का

अविनाश सिंह का मेडिकल कॉलेज के लिए संघर्ष जारी है उन्होंने दो बार रक्तदान दिया, उपवास किया, कई ज्ञापन दिया, पत्र भेजा, हस्ताक्षर अभियान चलाया वह 8 अप्रैल को फिर रक्तदान किया इसमे उनको कई संगठनों का समर्थन मिला और संघर्ष अभी भी जारी रखे हुए हैं कई बार उन पर दबाव बना लेकिन वो हर हार नही माने जनपद की माने तो उनका संघर्ष जल्द कामयाब होगा।

पहले अविनाश सिंह हिन्दू राष्ट्र निर्माण सेना में प्रदेश प्रभारी, NSUI में महासचिव, छात्र संगठन में जिलाध्यक्ष, छात्रसभा में विधानसभा अध्यक्ष व अब प्रगतिशील समाजवादी पार्टी में कार्यालय प्रभारी के पद पर है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *